घर के सामने से अगवा हुए दो वर्षीय मासूम को आगरा पुलिस ने मथुरा से किया बरामद

Crime आगरा उत्तर प्रदेश स्थानीय समाचार

मोर्निंग सिटी संवाददाता

आगरा ! शाहगंज के दौरेठा से मंगलवार की शाम को घर के बहार खेलते वक्त अगवा हुए दो वर्षीय मासूम को आगरा पुलिस ने सकुशल बरामद कर लिया है। पुलिस को यह सफलता बुधवार आधी रात को हाथ लगी। आगरा पुलिस ने अगवा हुए मासूम बच्चे को मथुरा के वृंदावन इलाके से सकुशल बरामद किया है। मासूम बच्चे के वृंदावन में होने की जानकारी अपहरणकर्ता ने ही दी थी । गिरफ्त में अपहरणकर्ता से जब सख्ती से पूछताछ की गयी थी तो उसने सारी कहानी बयां कर दी थी । उसने बताया कि वह मासूम को मथुरा के वृंदावन में एक घर पर छोड़कर आया है। अपहरणकर्ता  की निशानदेही पर आगरा पुलिस ने वृंदावन में दबिश देकर मासूम को सकुशल बरामद कर लिया। बच्चे के मिलने की खबर मिलते ही बच्चे के परिवार में खुशी की लहर दौड़ गई। मां मिथिलेश और दादी कांता देवी की आंखें खुशी से छलक उठी। परिवार के लोग मयंक के घर आने की प्रतीक्षा में गुरुवार सुबह तक जागते रहे। शाहगंज के मुरली बिहार स्थित सत्यम नगर निवासी जय प्रकाश की परचून का सामान बेचने की दुकान है। वह अपनी मां कांता देवी के साथ मंगलवार को दौरेठा नंबर दो अपनी ननिहाल आए थे। जय प्रकाश के साथ उनकी पत्नी मिथिलेश व दोनों बच्चों निशांत एवं मयंक भी साथ थे। मंगलवार की शाम को एक युवक घर के बाहर खेलते मयंक का अपहरण कर ले गया था। बच्चे के गायब होने पर परिजनों और क्षेत्र के लोगों ने उसकी तलाश शुरू कर दी। आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले गए। तभी एक सीसीटीवी फुटेज में आरोपी बच्चे को ले जाते हुए दिखाई दिया था। परिजनों ने जब उसकी फोटो वायरल की तो पहचान होने आजमपाड़ा से आरोपी युवक को पकड़ लिया। मासूम मयंक का माता-पिता के बिना रोकर बुरा हाल था। वह घर जाने की जिद कर रहा था। माता-पिता के पास जाने की जिद करते हुए सो गया था। आधी रात को मयंक के चाचा राहुल पुलिस के साथ उस घर पर पहुंचे। पुलिस ने मासूम को बरामद करने के बाद जैसे ही उसे जगाया। चाचा को सामने देखते ही मासूम उनसे बुरी तरह से लिपट गया। वह चाचा राहुल की गोद से नहीं उतर रहा था। वह बुरी तरह से डरा हुआ था। मासूम मयंक के सकुशल बरामद हो जाने पर मयंक के परिजनों ने पुलिस को धन्यवाद ज्ञापित किया। परिजनों का कहना था कि अगर पुलिस इस मामले में थोड़ी सी भी लापरवाही करती तो मयंक उन्हें नहीं मिल पाता। पुलिस की तत्परता और कार्रवाई के चलते ही अपहरणकर्ता की निशानदेही पर मयंक को बरामद कर लिया गया इसके लिए पुलिस को धन्यवाद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *