ताज ट्रैपेजियम जोन में कोयला जलाना पूर्णतः प्रतिबंधित/जलाने वालों पर होगी कार्यवाही।

Press Release आगरा उत्तर प्रदेश प्रशासन स्थानीय समाचार

ट्रांसपोर्ट नगर में मूलभूत सुविधायें करायें सुनिश्चित।

मोर्निंग सिटी संवाददाता 

आगरा!  मण्डलायुक्त अमित गुप्ता की अध्यक्षता में आयुक्त सभागार में ताज टै्रपेजियम जोन प्रदूषण (निवारण तथा नियंत्रण) प्राधिकरण की 58वीं बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में आयुक्त महोदय ने विभिन्न विभागों की टी0टी0जैड के अन्तर्गत कृत कार्यवाही की समीक्षा करते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए। बैठक में सर्वप्रथम कुछ पेठा निर्माण इकाईयों में प्रयोग हो रहे कोक का बिन्दु उठा, जिसमें बताया गया कि कुछ पेठा फैक्टरियां सकरी गलियों में स्थित हैं, जहां ग्रीन गैस को उपलब्ध कराना संभव नहीं है। मण्डलायुक्त महोदय ने जिलाधिकारी आगरा को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिये कि किसी भी स्थिति में कोक का उपयोग न हो। बैठक में बताया गया कि मथुरा में कोल/कोक बिक्रय करने वाले 13 व्यक्तियों की जांच की गई, उसमें एक व्यक्ति पर लाइसेंस निरस्तीकरण की कार्यवाही की गई है। मण्डलायुक्त महोदय ने निर्देशित करते हुए कहा कि हार्ड कोक बिक्रय करने वालों की सूची बनाकर निगरानी की जाये। जनपद फिरोजाबाद में इंर्ट भट्टे संचालन का मुद्दा उठा, जिसमें बताया गया कि जिग-जैक व्यवस्था को लागू किया जा रहा है। मण्डलायुक्त महोदय ने नेशनल हाइवे-2 पर लगे पौधों को नियमित रूप से जल का छिड़काव कर प्रदूषण को कम करने व साफ-सफाई के निर्देश दिए। शहर में मैट्रो का कार्य भी प्रगति पर है, इसमें कार्य स्थल पर धूल-मिट्टी से प्रदूषण का मुद्दा बैठक में उठा, मण्डलायुक्त महोदय ने मैट्रो के अधिकारियों से प्रदूषण से सम्बन्धित तैयारी का ब्यौरा मांगा, जिसमें बताया गया कि 08 एंटी स्मॉग गन व टैंकरों के माध्यम से जल छिड़काव प्रतिदिन किया जा रहा है।
बैठक में यमुना किनारा स्थित ट्रांसपोर्ट कारोबारियों के बिन्दु पर भी विचार किया गया, जिसमें एडीए के अधिकारियों ने बताया कि यमुना किनारे के ट्रांसपोर्ट व्यवसाय को स्थानान्तरण हेतु ट्रांसपोर्ट नगर में रिक्त भू-खण्ड ई-ऑक्शन के माध्यम से आवंटित कराया जायेगा। मण्डलायुक्त महोदय ने घनी आबादी क्षेत्र में ट्रांसपोर्ट व्यवसाय पर कार्यवाही करने को निर्देशित किया। नगर-निगम द्वारा किये जा रहे विभिन्न निर्माण कार्यों यथा- सड़क निर्माण, सीवर, लाइन इत्यादि कार्य स्थलों पर धूल-मिट्टी, सड़क खुदाई में बरती जा रही लापरवाही व अव्यवस्था पर मण्डलायुक्त महोदय ने निर्देश दिया कि जितना कार्य कराया जाये, उतनी ही संभव खुदाई हो, जहां कार्य पूर्ण हो चुका है वहां तत्काल खुदी हुई सड़क को भर दिया जाये, जिससे आमजन को प्रदूषण सम्बन्धी समस्या न हो। प्रदूषण की एक प्रमुख समस्या पुराने वाहनों पर भी बैठक में विचार किया गया तथा सहमति बनी कि 15 वर्ष पुराने वाहनों पर आरटीओ कार्यालय से सूची लेकर उन्हें सीज करने की कार्यवाही की जाये तथा उन्हें नये रजिस्ट्रेशन न दिए जाये। बैठक में बताया गया कि जनपद फिरोजाबाद में 15 वर्ष पुराने 1083 वाहनों को सूचीबद्ध कर उन पर कार्यवाही की जा रही है। बैठक में टीटीजैड क्षेत्र में सुचारू रूप से विद्युत आपूर्ति का बिन्दु भी उठा, जिसमें बताया गया कि नियमतः 24 घण्टे अबाध आपूर्ति दी जानी है, इस पर विद्युत विभाग ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में 18 घण्टे आपूर्ति की जा रही है। मण्डलायुक्त महोदय ने निर्देशित किया कि शहर में विभिन्न सामुदायिक स्थानों – रोडवेज बस स्टैण्ड, रेलवे स्टेशन, चौराहों पर कूड़ा जलाने की घटनायें प्रायः देखने में आ रही हैं, उन पर सख्ती से कार्यवाही हो, जिससे प्रदूषण सम्बन्धी समस्या को कम किया जा सके। उन्होंने नगर निगम को निर्देशित करते हुए कहा कि शहर में लैदर अपशिष्ट को संग्रहित कर उससे कुछ क्रिएटिव कार्य करने हेतु एक कमेटी गठित कर उसके सुझाव से लैदर अपशिष्ट का निस्तारण कराया जाये। बैठक में अस्पतालों से उत्पन्न मेडिकल अपशिष्ट का निस्तारण कराने को भी निर्देशित किया तथा इस हेतु मुख्य चिकित्साधिकारी को ऐसे अस्पतालों पर कार्यवाही के निर्देश दिए, जो मेडिकल अपशिष्ट को खुले में छोड़ देते हैं।
बैठक में जिलाधिकारी महोदय आगरा श्री नवनीत सिंह चहल, श्री पुलकित खरे जिलाधिकारी मथुरा, जिलाधिकारी फिरोजाबाद, जिलाधिकारी मैनपुरी एवं नगर आयुक्त श्री निखिल टीकाराम फुंडे, एडीए उपाध्यक्ष श्री चर्चित गौड़ सहित अन्य संबंधित मण्डलीय अधिकारी व टी0टी0 जैड प्राधिकरण के सदस्य आदि उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *