थाना इंचार्ज की शिकायत मामले में सीओ की जांच जारी,एसएसपी को भेजी जाएगी रिपोर्ट

Crime आगरा उत्तर प्रदेश भ्रष्टाचार स्थानीय समाचार
रिपोर्ट — अजय परिहार 
मोर्निंग सिटी संवाददाता 
पिनाहट/ आगरा । बसई अरेला थाने में तैनात दरोगा ने थाना इंचार्ज पर रिश्वत का आरोप लगाते हुए एसएसपी से शिकायत की थी। निर्देश के बाद सीओ पिनाहट मामले की जांच कर रहे हैं। जांच की रिपोर्ट जल्द ही एसएसपी को भेजी जाएगी। वही आरोप लगाने वाले दरोगा का विवादों से पुराना नाता है। जिस पर पूर्व में भी लाइन हाजिर की कारवाई हो चुकी है। आपको बता दें थाना बसई अरेला में तैनात दरोगा जितेंद्र कुमार ने एसएसपी आगरा को प्रार्थना पत्र देकर आरोप लगाया कि थाना बसई अरेला क्षेत्र में 4 नवंबर को सड़क दुर्घटना में एक व्यक्ति की मृत्यु हुई थी इस मामले में अभियोग दर्ज हुआ था। थाना प्रभारी बसई अरेला विवेक कुमार ने आरोपी पक्ष से मिलकर मैक्स गाड़ी एवं चालक को बदलने के लिए रिश्वत ली। और उन्हें विवेचना में रिश्वत का लालच दिया नहीं लेने पर थाना प्रभारी नाराज हो गए और उत्पीड़न शुरू कर दिया। दरोगा की शिकायत पर एसएसपी आगरा प्रभाकर चौधरी ने सीओ पिनाहट को जांच के निर्देश दिए। शिकायत को लेकर पूरे प्रकरण की जांच चल रही है। दरोगा और थाना इंचार्ज के सीओ ने बयान दर्ज किए हैं। साक्ष्यों को एकत्रित किया जा रहा है। जल्द ही पूरे मामले की रिपोर्ट एसएसपी आगरा को भेजी जाएगी। और सत्यता के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी।वही आपको बता दें दरोगा जितेंद्र कुमार का विवादों से पुराना नाता रहा है। पूर्व में सिकंदरा में तैनात होने पर वह एक इंस्पेक्टर के समय अपने आप को कोतवाल से कम नहीं समझते थे। थाने पर तैनात पुलिसकर्मियों से आए दिन अभद्रता कर देते थे। इस कारण से पुलिसकर्मी अंदर से परेशान थे। दरोगा की कार्यशैली की शिकायत एसएसपी के पास पहुंची थी। दरोगा को सुधारने के लिए बोला गया। वही पुलिसकर्मी महिला कर्मी ने दरोगा के अभद्र व्यवहार की शिकायत भी की थी।  गोपनीय जांच चली और जांच में दरोगा फंस गए और उन्हें कार्रवाई करते हुए पुलिस लाइन भेजा गया। दरोगा की 9 सितंबर को थाना बसई अरेला में तैनाती की गई थी। ड्यूटी में लापरवाह दरोगा ने अपनी हनक दिखाते हुए एक बार फिर विवादों में हैं।
इसी संदर्भ में सीओ पिनाहट अमरदीप पाल का कहना है कि एसएसपी के निर्देश पर दरोगा द्वारा की गई शिकायत की जांच चल रही है। दरोगा जितेंद्र कुमार ने जो आरोप लगाए हैं उसके पर्याप्त साक्ष्य नहीं दे सके हैं। थाना इंचार्ज विवेक कुमार के भी बयान दर्ज किए गए हैं। निष्पक्ष जांच की जा रही है साक्ष्यों की रिपोर्ट एसएसपी को भेजी जाएगी। इसी संदर्भ में दरोगा जितेंद्र कुमार का कहना है कि सीओ पिनाहट ने मुझे बयान के लिए बुलाया था। मैंने अपने बयान दर्ज करा दिए हैं। थाना इंचार्ज बसई अरेला विवेक कुमार पाल का कहना है कि दरोगा द्वारा लगाए गए आरोप निराधार हैं। दरोगा ड्यूटी के मामले में लापरवाही है। डॉकी थाना क्षेत्र में दरोगा जितेंद्र कुमार की ड्यूटी लगाने पर वह खफा हो गए जिसे लेकर उन्होंने झूठी शिकायत की है। जांच पर पूरा भरोसा है सत्यता सामने आएगी। सीओ पिनाहट को अपने बयान दर्ज करा दिए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *