गांव में सफाई ना होने के कारण फैल रही है डेंगू जैसी बीमारियां

उत्तर प्रदेश प्रशासन बदायू
बदायूँ/कादरचौक !  सुबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी सफाई व्यवस्था को लेकर हर समय सख्त आदेश दे रहे हैं फिर भी उसके बाद ग्राम पंचायतों के प्रधान और सफाई कर्मी गांव की सफाई व्यवस्था पर बिल्कुल भी ध्यान नहीं दे रहा है जबकि इस समय संक्रामक बीमारियां उत्पन्न हो रही हैं और मच्छर भी ज्यादा पैदा हो रहे हैं इसके बावजूद भी उच्च अधिकारी सफाई व्यवस्था पर मौन धारण करके बैठे हुए हैं जिसके कारण गरीब जनता को डेंगू मलेरिया जैसी बीमारियों का पैदा होने का डर सता रहा है ! आपको बता दें कि विकासखंड कादरचौक की ग्राम पंचायत कुंडली बदुल्ला गंज में सफाई व्यवस्था पूरी तरीके से चौपट है गांव में कोई भी सफाई कर्मी सफाई के लिए नहीं आता है जिसके कारण गांव में काफी समय से सफाई नहीं हुई है गांव में जगह जगह पर गंदगी के ढेर लगे हुए हैं और नालियां भी पूरी तरीके से कूडो के ढेर से चौक हो गए हैं बदुल्लागंज के सरकारी स्कूल के पास नाली पूरी तरीके से चौक हो गई है जिसके कारण स्कूल के चारों तरफ गंदगी फैली हुई है स्कूल में आने वाले बच्चों को स्कूल के अंदर जाने में परेशानी होती है और उनको मच्छर भी काटते हैं जिससे गांव में बीमारियां फैल रही हैं और मच्छर भी पैदा हो रहे हैं जबकि इस समय लोगों को डेंगू मलेरिया जैसी बीमारी का खतरा बना हुआ है अभी कुछ समय पूर्व पहले एक गांव में डेंगू  बीमारी के 8 मरीज मिले थे जिस पर डीएम ने सफाई व्यवस्था को लेकर सफाई के सख्त आदेश दिए थे उसके बाद भी ग्राम पंचायत प्रधान और सचिव सफाई पर ध्यान नहीं दे रहे हैं अगर इस तरीके से यही हाल रहा तो गांव में चारों तरफ डेंगू,मलेरिया जैसी बीमारियां पैदा हो जाएंगी ग्रामीणों का कहना है कि जब से प्रधान का चुनाव हुआ है तब से गांव के अंदर कोई भी कर्मचारी सफाई करने के लिए काफी समय से नहीं आ रहा है जिससे गांव के अंदर और रोड पर कूडे और गन्दगी के ढेर इकट्ठा हो गए हैं और जिससे हमे और हमारे बच्चों को डेंगू जैसी बीमारी का खतरा सता रहा है जबकि सीएमओ ने हर गांव में स्वास्थ्य कैंप लगाने का भी आदेश किया है हर ग्रामीणों का डेंगू और मलेरिया जैसी बीमारी का चेकअप करने के लिए उसके बावजूद भी गांव के अंदर कोई भी सफाई की व्यवस्था नहीं है जिससे लोगों को हर तरीके से गंदगी के ढेरों पर रहना पड़ रहा है!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *