जेल जायेगें मैनपुरी के पूर्व सपा विधायक राजू यादव

Crime मैनपुरी

मैनपुरी। जिला एवं सत्र न्यायाधीश अनिल कुमार ने पूर्व सदर विधायक की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी है। भाजपा प्रत्याशी पुत्र ने पूर्व विधायक के खिलाफ मतदान के दिन जानलेवा हमला करने का आरोप लगाकर मुकदमा दर्ज कराया था। इस मुकदमे में पूर्व विधायक और उनके साथी आरोपी थे। कोर्ट ने अपराध की गंभीरता को देखते हुए अग्रिम जमानत देने से इंकार कर दिया।

ज्ञात हो कि 20 फरवरी को सुमित चौहान पुत्र ठा. जयवीर सिंह निवासी सिरसागंज ने कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उनके पिता जयवीर सिंह मैनपुरी सदर सीट से भाजपा प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ रहे हैं। चुनाव अभिकर्ता शिवप्रताप सिंह चौहान के साथ वह अपनी गाड़ी से निर्वाचन भ्रमण पर थे। तभी सूचना मिली कि ताल फ्री मतदान केंद्र पर सपा प्रत्याशी राजकुमार यादव मतदान प्रभावित करने की कोशिश कर रहे हैं। शाम 5 बजे के करीब वे वहां पहुंचे तो विधायक राजकुमार यादव, किशन दुबे, बंटी यादव पुत्र व्यासमुनि यादव, दीपू गोस्वामी पुत्र मानसिंह, राहुल पुत्र गोरेलाल, अभिमन्यु पुत्र नारायन गोस्वामी, बिल्लू कश्यप पुत्र चौकीदार, अंशुल पुत्र कमलेश, दुष्यंत पुत्र अनिल, चंदन गोस्वमी पुत्र गिरीश, सूबेदार आदि मतदान केंद्र पर फर्जी वोटिंग करवा रहे थे। सुमित ने जाकर रोका तो राजकुमार यादव और उनके साथियों ने पथराव कर उन लोगों पर जानलेवा हमला कर दिया। इस तहरीर पर पुलिस ने उपरोक्त आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 148, 307, 336, 171 के तहत मुकदमा दर्ज किया था। पूर्व विधायक राजकुमार यादव ने इस मुकदमे में अग्रिम जमानत पाने के लिए जिला एवं सत्र न्यायाधीश अनिल कुमार के यहां आवेदन किया था और आरोप लगाया कि घटना की रिपोर्ट राजनैतिक द्वेषवश और देरी से कराई गई है। लेकिन कोर्ट ने इस आवेदन पत्र को निरस्त कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *