जर्जर सड़को के आए अच्छे दिन

उत्तर प्रदेश बस्ती
मोर्निंग सिटी संवाददाता
 बस्ती। योगी सरकार ने सड़को को चमकाने और दुरुस्त करने के लिए गड्ढा मुक्ति अभियान चलाया, करोड़ों रुपए गड्ढों वाली सड़क पर पानी की तरह बहते गए, बस्ती जनपद में अब योगी सरकार 2 में भी अब उन सड़को के दिन बहुरने वाले है जिन चलने से लोग कदराते थे, या यू कहे जान जोखिम में डालकर लोग ऐसी सड़को पर सफर किया करते थे, दोबारा सत्ता में आते ही जर्जर सड़को के जीर्णोधार का काम तेजी से चल रहा है। गड्ढों वाली सड़को को ढूंढकर उनका कायाकल्प किया जा रहा है। बस्ती का पीडब्ल्यूडी विभाग उन पुरानी से पुरानी और खराब सड़को पर काम कर रहा जो कई साल से चलने लायक भी नहीं थी मगर आज उन्हे सपाट बनाया जा रहा। उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की दोबारा सरकार बनने के बाद विकास की राह पर बस्ती जनपद भी तेजी से अग्रसर है। जनपद के अधिकांश टूटी हुई सड़कों का अब फिर से एक बार जीर्णोद्धार शुरू हो गया है। कई वर्षों से जर्जर रही सड़कें अब फिर से सज संवर कर तैयार होने लगी है।
बस्ती जिले की चैन पुरवा की सड़क वर्षों से अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहे थे लेकिन पीडब्ल्यूडी के सीडी 1 के अफसरों ने इन सड़क का कायाकल्प कर डाला है। जिस सड़क से लोग गुजरने से गुरेज करते थे अब उस सड़क पर गाडियां फर्राटे भर्ती नजर आ रही है। पांडेय बाजार से पालीटेक्निक की सडक का हाल मानो ऐसा था कि बरसात में तालाब और सड़क में फर्क करना मुश्किल था या यू कहे इस सड़क को लफ़्ज़ों में बयान कर पाना मुश्किल है। बहरहाल योगी की पार्ट 2 सरकार में इस सड़क का भी जीर्णोधार हो गया और राहगीरों को अब गड्ढा मुक्त सड़क का तोहफा मिल रहा है। सड़क की गुडवत्ता का ध्यान रखने के लिए अधिशासी अभियंता शुभ नारायण ने कमान खुद अपने हाथों में रखी है। वो अचानक बिना किसी जानकारी के निर्माण स्थल पर पहुंच कर सड़क की गुडवत्ता का जायज़ा ले रहे है जिससे सड़क की गुणवत्ता में कोई कमी न रहे और सरकार की मनसा को अमली जामा पहनाया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *