हिन्दी पत्रकारिता दिवस के अवसर पर सम्मेलन का आयोजन

उत्तर प्रदेश हाथरस


हाथरस। प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईष्वरीय विष्व विद्यालय के अलीगढ़ रोड स्थित आनन्दपुरी कालोनी केन्द्र द्वारा हिन्दी पत्रकारिता दिवस के अवसर पर जनपदीय मीडिया सेमीनार का आयोजन हिन्दी पत्रकारिता दिवस के अवसर पर 30 मई को नगरपालिका के सभागार में किया गया।
कार्यक्रम का षुभारम्भ वामा सारथी पुलिस फेमिली वैल्फेयर सोसायटी की अध्यक्षा विभा वैद्य, मंगलायतन विष्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर के0वी0एस0एम0 कृश्णा, फर्रूखाबाद की वरिश्ठ राजयोग षिक्षिका बी0के0 मंजू बहिन तथा नगरपालिका अध्यक्ष पं0 आषीश षर्मा, बी0के0 षान्ता बहिन द्वारा ज्योति से ज्योति जगाते चलो की मधुर ध्वनि के मध्य दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। मोनिका बालिका ने ‘‘आप जो पधारे तो महक उठी कली कली’’ गीत पर स्वागत भावनृत्य प्रस्तुत किया। सभा में उपस्थित सभी आगन्तुक मीडियाकर्मियों, बुजुर्गों एवं मंचासीन अतिथिगणों का स्वागत ब्रह्माकुमारी बहिनों द्वारा किया गया।
अपनी षुभकानायें देते हुए नगरपालिका अध्यक्ष आषीश षर्मा ने कहा कि समाजिक, प्रषासन, षासन की योजनाओं से वंचित बुजुर्गों की जुबान बनने का आज पुण्य कार्य प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईष्वरीय विष्व विद्यालय द्वारा मीडिया जगत से जुड़े साथियों के मध्य किया है, वह अति सराहनीय है।

फर्रूखाबाद से पधारीं बी0के0 मंजू बहिन ने कहा कि भारत महान देष रहा है और गौरवषाली अतीत रहा है, जहाँ कोई दुःखी, दीन, हीन नहीं होता था लेकिन आज परिस्थितियाँ बदल चुकी हैं। ऐसे में मीडिया जगत से जुडे़ हुए संवेदनषील भाई-बहिनें बुजुर्गों की आवाज को उठाकर सामाजिक परिवर्तन में महती भूमिका अदा कर सकते हैं। उन्होंने दो मिनट का राजयोग अभ्यास गाइडैड कॉमेन्ट्री के माध्यम से कराया।

मंगलायतन विष्वविद्यालय के कुलपति के0वी0एस0एम0 कृश्णा ने कहा कि हम कहते तो हैं कि भारत महान है लेकिन भारत की महानता को समझने वाले निनन्यानवे प्रतिषत लोग यह जानते ही नहीं हैं कि भारत कैसे महान है।
वामा सारथी पुलिस फेमिली वैल्फेयर सोसायटी की अध्यक्षा विभा वैद्य ने अपने भावपूर्ण सम्बोधन में कहा कि आज जीवन से मूल्यों का ह्रास तेजी से हो रहा है। जीवनमूल्यों को समझने वाला ही बुजुर्गों के हित में सोच सकता है।
भारत गौरव संस्थान के अध्यक्ष सुरेन्द्र षर्मा कबाड़ी बाबा ने कहा कि दया, करूणा, क्षमा के भाव जो ब्रह्माकुमारी षान्ता बहिन अपने सहयोगियों के साथ कर रही हैं वह दिव्यता से सम्पन्न कार्य है, इसे हल्के में नहीं लेना चाहिए। मीडियाकर्मियों की ओर से राजदीप तोमर, गौरव कुमार ने षुभकामनायें दीं।  बी0के0 ष्वेता बहिन ने ब्रह्माकुमारीज संगठन का संक्षिप्त षब्दों में गहन परिचय कराया।
ब्रह्माकुमारीज़ के आनन्दपुरी कालोनी केन्द्र संचालिका बी0के0 षान्ता बहिन ने सभी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इस वर्श को आजादी के अमृत महोत्सव से स्वर्णिम भारत की ओर थीम रखी गई है जिसके अन्तर्गत समाज के हर वर्ग को भारत को पुनः आध्यात्मिक विष्वगुरू बनाने की सेवा के लिए आगे आना चाहिए।
कवि रोषन लाल वर्मा ने ‘‘देना षुरू कर दीजिये बुजुर्गो का सम्मान, बनी रहेगी संस्कृति नहीं होगा अपमान’’, बाबा देवी सिंह निडर ने ‘‘गरीबों का षोशण किया तो जूते भी पडे़ंगे’’ कविता के माध्यम से भ्रश्टाचारियों को जुर्म से डरने की सलाह दी’’, दीपक रफी ने ‘‘जाने क्या देखा मुझमें, मुझे प्यार कर लिया’’ काव्य प्रस्तुत किया।
संयुक्त संचालन आषु कवि अनिल बौहरे एवं बी0के0 दिनेष भाई ने किया। कार्यक्रम प्रबन्धन में बी0के0 ष्वेता बहिन , कृति बहिन, बबली बहिन, राकेष अग्रवाल, गजेन्द्र भाई, अमित अग्रवाल आदि ने किया।
इस अवसर पर अनेक मीडियाकर्मी एवं अनेक गणमान्य बुजुर्ग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *