गीता जयंती महोत्सव पर अध्यात्म के रंग पर रंगा पोइया घाट

Religion/ Spirituality/ Culture आगरा उत्तर प्रदेश धार्मिक स्थानीय समाचार
मोर्निंग सिटी संवाददाता 
आगरा।पोइया घाट पर यमुना महाआरती संग मां गायत्री का पांच कुंडीय महायज्ञ का आयोजन हुआ आधी आबादी का एक प्रयास सनातन धर्म की पताका फहराने का है। कालिंदी के तीरे यानी यमुना किनारे, पोइया घाट, दयालबाग पर कोहरे की चादर ओढ़ जब सवेरा हुआ तो स्वास्तिक वेलफेयर ट्रस्ट के आह्वान पर शहर के सैंकड़ों महिला पुरुष एकत्र हो गए। गीता जयंती और मोक्षदा एकादशी पर पितृ आत्माओं के मोक्ष की कामना के साथ श्रंखलाबद्ध महोत्सव का आयोजन किया गया। यमुना मैया के पूजन से कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ। यमुना आरती महंत पंडित जुगल किशोर श्रोत्रिय के सानिध्य में यमुना आरती की गयी। एक तरफ मोक्ष धाम की शांति और दूसरी ओर पंडित ज्ञानेंद्र के  भजनों से माहौल अध्यात्म के अलग ही रंग में रंगा हुआ था। भागवताचार्य डॉ दिनेश दीक्षित ने भगवत गीता के श्लोकों की व्याख्या की। गायत्री शक्तिपीठ के कैलाश चंद, मीना देवी, खुशीराम, चंद्र दत्त शर्मा और विनोद विश्वकर्मा के सानिध्य में पांच कुंडीय हवन में 108 लोगों ने आहुतियां दीं। कार्यक्रम का संचालन ज्योति शर्मा ने किया। इंडिया राइजिंग के अध्यक्ष नितिन जौहरी, बब्बल परमार आदि टीम ने यमुना किनारे आकर्षक रंगोली बनायी। कार्यक्रम में आलोक अग्रवाल,  अरविंद द्विवेदी, अजय पांडेय, शुभम द्विवेदी, पार्षद राजेश्वरी, भरत शर्मा, अतुल कृष्ण, अनिल सैंगर,सार्थक गुप्ता, पूनम, अबी आदि उपस्थित थे। व्यवस्थाएं शिशिर मित्तल, सविता मित्तल, आंशिका मित्तल, शिखा गौतम, श्वेता अग्रवाल, गीता सैनी, किरण लालवानी, प्रेरणा सिंह, क्षमा दूबे, सतीश, गौरव, संजय, आदर्श ठुकराल, अंजू,  कशिश नैनानी, जानवी बजाज, निधि गाबा, आचार्य उमेश, रइसपाल आदि ने संभालीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *