पुलिस व परिवहन विभाग ने स्लीपर कोच 21 बसों का किया चालान

इटावा उत्तर प्रदेश
बकेवर/इटावा। गाजियाबाद के स्कूली बस घटना के बाद नींद से जागा परिवहन विभाग लगातार डग्गामारी और अवैध रूप से चल रहे वाहनों पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही थी ।शासन द्वारा जारी दिशानिर्देश के तहत फिर भी कोई डग्गामारी बस कोई अंकुश नहीं लगाया गया था।
मुख्यमंत्री आदित्यनाथ के लगातार आदेश 30 अप्रैल तक अभियान चलाने के लिए जा रहे थे पर इटावा जिला में कोई डग्गा मारी बसों का चालान नहीं किया जा रहा था। थाना बकेवर नेशनल हाईवे पर ग्रामीण अपर पुलिस अधीक्षक सतपाल सिंह व एआरटीओ बृजेश कुमार द्वारा सुबह चेकिंग लगाई गई जिसमें स्लीपर कोच 21 बसों का चालान किया गया और डग्गामारी बसों पर अंकुश लगाने का काम किया गया जिस पर थाना प्रभारी विद्यासागर सिंह और कस्बा इंचार्ज रामकिशन वर्मा सहित अन्य थाने का स्टाफ व लबेदी थाना  का स्टाफ भी मौजूद रहा। वहीं सभी चालक परिचालकों को डग्गा मारी वाहनों के बस स्वामियों को अवगत कराया गया कि कोई भी बस डग्गा मारी में नहीं चलेगी क्योंकि गाजियाबाद में स्कूल की बस पर बहुत बड़ा हादसा हो चुका था वही इटावा जिला में भी स्कूल की पीली बसें भी विवाह शादी की पार्टी भी लगातार डाल रही हैं ।वहीं प्राइवेट बसों के संचालन जो रोड पर टैक्स भर रहे हैं उनकी पार्टियों को काटकर पीली बसें स्कूलों की पार्टियों की सेवा करती हुई नजर आ रही हैं ।स्कूल संचालकों से जब बात की गई तो उन्होंने बताया कि परिवहन विभाग व पुलिस विभाग को रुपए देने के बाद पार्टी डालता हूं यह गुप्त सूत्रों से मालूम चला है। वहीं थाना प्रभारी विद्यासागर सिंह ने सभी बस संचालकों को बताया कस्बा महेवा व बकेवर अंदर गाड़ी कोई भी नहीं आएगी जिससे आवागमन में जाम की स्थिति पैदा रहती है जिस किसी को जाना हो नेशनल हाईवे पर ही से निकलेगी और सभी शोपीस में बने ट्रैवल्स लाइसेंस भी कागज सहित दिखाएं क्योंकि सो पीस में ट्रेवल्स जो चल रहे हैं बगैर लाइसेंस के जो सरकार को चूना लगा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *