आयुक्त अमित गुप्ता की अध्यक्षता में मण्डलीय विकास कार्यों की समीक्षा बैठक

Press Release आगरा उत्तर प्रदेश पुलिस /प्रशासन प्रशासन स्थानीय समाचार
आगरा। आयुक्त अमित गुप्ता की अध्यक्षता में आयुक्त सभागार में मण्डलीय विकास कार्यों की समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई। सर्वप्रथम आयुक्त महोदय ने विगत बैठक में दिये गये दिशा-निर्देशों पर कार्यवाही का व्यौरा तलब किया। तत्पश्चात् 50 लाख से अधिक लागत के विकास सम्बन्धी निर्माण कार्यों की समीक्षा की, जिसमें सेतु निगम द्वारा कराये जा रहे एन0एच0-2 से एन0एच0-3 जोड़ने हेतु रूनकता-रोहतक मार्ग के रेल संपार 68बी पर 4-लेन, रेल उपरिगामी सेतु निर्माण के लिये वन संरक्षित भूमि हेतु प्रस्ताव की समीक्षा की, जिसमें बताया गया कि उक्त प्रस्ताव सामाजिक वानिकी प्रभाग को दिया गया है, इस पर आयुक्त महोदय ने जिलाधिकारी आगरा को रेलवे विभाग से बात कर कार्य में शीघ्रता लाने के निर्देश दिये। बैठक में जलापूर्ति हेतु रेट्रो फिटिंग के कार्यों की समीक्षा की, जिसमें बताया गया कि पाइप लाइन लीकेज की सर्वाधिक समस्या है, जोकि घटिया पाइप का प्रयोग, पाइप लाइन प्रस्तावित गहराई में न डालना तथा कम्प्लाइंस ठीक न होने के कारण है। आयुक्त महोदय ने सम्बन्धित जिलाधिकारी व मुख्य विकास अधिकारी को निर्देशित किया कि वह मौके पर स्वयं निरीक्षण करें तथा लापरवाही मिलने पर सम्बन्धित ठेकेदार पर पेनाल्टी, पेमेंट कटौती जैसी कार्यवाही अमल में लायें। बैठक में आगरा नगर के वेस्टर्न सीवरेज जोन में सीवर नेटवर्क बिछाने की योजना की समीक्षा की, जिसमें कार्यदायी संस्था जल निगम ने बताया कि अब तक 149 किमी0 सीवर लाइन पूर्ण हो चुकी है, 14300 नल सीवर गृह संयोजन, एक नग सीवेज पम्पिंग स्टेशन का कार्य प्रगति पर है, जिस पर आयुक्त महोदय ने निर्देशित किया कि कार्य स्थल पर धूल, मिट्टी का उचित प्रबन्ध, प्रदूषण से सम्बन्धित उपायों तथा आवागमन में अनावश्यक अवरोध न हो व गुणवत्तापूर्ण ढंग से कार्य करायें। आयुक्त महोदय ने जे0एन0एन0यू0आर0एन0 शास्त्रीपुरम योजना में शेष भवनों का निर्माण तथा निर्मित आवासों के आवेदन पत्र लेकर लाटरी के माध्यम से आवंटन व कब्जा देने को ए0डी0ए0 को निर्देशित किया तथा पी0ओ0 डूडा को आवंटन की उचित पारदर्शी व्यवस्था बनाने को कहा। बैठक में आयुक्त महोदय ने विभिन्न कारणों से बाधित यथा- धनाभाव के कारण बाधित, उच्च न्यायालय के आदेश के क्रम में बाधित अनापत्ति प्रमाण पत्र न मिलने के कारण बाधित परियोजना में आ रही बाधाओं का शीघ्र निस्तारण कराने के निर्देश दिये। कांशीराम आवास योजना, पथौली की समीक्षा में बताया गया कि 320 आवासों में 144 लाभार्थियों को कब्जा दिया जा चुका है तथा नये आवासों का कब्जा तथा आवंटन की प्रक्रिया गतिशील है।
आयुक्त महोदय ने उक्त योजना हेतु पेयजल व्यवस्था शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिये, जिस हेतु बताया गया कि 04 नलकूप लगाये जाने का कार्य प्रगति पर है तथा क्रिटीकल गैप्स योजना के तहत् 10.28 लाख की राशि अवमुक्त की जा चुकी है। कस्तूरबा गांधी विद्यालय, नंद गांव, मथुरा में विद्युत व्यवस्था तथा 84 खम्भा, महावन में शौचालय निर्माण आदि, सैनिक स्कूल मैनपुरी हेतु अतिरिक्त भूमि क्रय हेतु भी बैठक में निर्देश दिये गये। बैठक में 50 लाख से अधिक की परियोजना में 08 परियोजनाओं की रिपोर्ट प्रस्तुत न करने पर आयुक्त महोदय ने कड़ी नाराजगी व्यक्त की तथा आगामी बैठक में रिपोर्ट प्रस्तुत करने हेतु नगर आयुक्त आगरा, मथुरा व फिरोजाबाद को निर्देश दिये। बैठक में उचित प्रगति पुस्तिका न प्रस्तुत करने पर डी0एस0टी0ओ0 मथुरा को चेतावनी जारी करने के निर्देश दिये। जनपद फिरोजाबाद में प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा में बताया कि उक्त के तहत् 568 आवासों में से 250 आवासों के आवंटन किये गये हैं। आयुक्त महोदय ने शेष आवासों पर लाभार्थियों को कब्जा देने की रिपोर्ट आगामी बैठक में प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। बैठक में राजकीय बालगृह व नारी संवासिनी गृह, आगरा के भवन बजट के आभाव में निर्मित नहीं किये जा सके हैं, जिस हेतु आयुक्त महोदय द्वारा शासन से अतिरिक्त बजट मांगने को निर्देशित किया। बैठक में आंगनबाड़ी व प्राथमिक पाठशालाओं की उपस्थिति की समीक्षा की गई, जिसमें बताया गया कि आगरा में 72 प्रतिशत् उपस्थिति, फिरोजाबाद में 70 प्रतिशत्, मैनपुरी में 70.5 प्रतिशत् एवं मथुरा में 72 प्रतिशत् उपस्थिति है, जिस पर कड़ी नाराजगी व्यक्त कर आयुक्त महोदय ने 80 प्रतिशत् हाजिरी पूर्ण कराने के निर्देश दिये तथा ब्लाक स्तरीय अधिकारियों पर कार्यवाही करने को कहा। बैठक में आयुक्त महोदय ने आयुष्मान कार्ड की सभी जनपदो से रिपोर्ट तलब की, जिसमें उचित प्रगति न होने पर सम्बन्धित अधिकारियों को चेतावनी दी। आयुक्त महोदय ने दिव्यांग बच्चों हेतु भी दिशा-निर्देश दिये, जिसमें बताया गया कि आगरा में 5288, फिरोजाबाद में 3000 दिव्यंग बच्चे हैं। उन्होंने निर्देशि किया कि आंगनबाड़ी, शिक्षा विभाग, ग्राम प्रधान के माध्यम से ऐसे बच्चों का चिन्हिकरण कर उन्हें स्कूल में नामांकित कराया जाये तथा इस हेतु ब्लाक स्तर पर कैम्प आयोजित किये जायें।
आयुक्त महोदय ने निर्देशित किया कि जाड़े के मौसम में प्रदूषण की समस्या न हो, इस हेतु अभी से सजगता रखें व निरीक्षण टीम बनाकर कूड़े में आग लगाने पर रोक, पाल्यूशन व्हीकल की जांच, कंस्ट्रक्सन एक्टीविटी स्थल पर पानी का छिड़काव तथा 15 साल पुराने सभी वाहनों पर रोक के उपाय को सुनिश्चित करने को कहा तथा सभी सम्बन्धित अधिकारियों से मोबाईल में समीर एप डाउनलोड कर ए0क्यू0आई0 समय-समय पर जांच करने के निर्देश दिये। बैठक में सोलर फोटो वोल्टैइक सिंचाई पम्प की आपूर्ति एवं स्थापना की समीक्षा की गई, जिसमें बताया गया कि जनपद मथुरा में 14, आगरा में 08 की स्थापना होना शेष है, फिरोजाबाद में 14 व मैनपुरी में 15 सोलर फोटो वोल्टैइक सिंचाई पम्प की स्थापना की जा चुकी है। बैठक में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि पी0एम0 जन आरोग्य योजना (गोल्डन कार्ड) की समीक्षा की गई, जिसमें बताया गया कि जनपद आगरा में 40.85 प्रतिशत्, फिरोजाबाद में 53 प्रतिशत्, मथुरा में 57 प्रतिशत्, मैनपुरी में 36 प्रतिशत् ऐसे लाभार्थी परिवार हैं, जिनमें एक भी गोल्डन कार्ड नहीं बना है, आयुक्त महोदय ने लक्ष्य के सापेक्ष गोल्डन कार्ड बनाने के कड़ाई से निर्देश दिये। बैठक में परिवार नियोजन कार्यक्रम की समीक्षा की गई, जिसमें मैनपुरी प्रथम स्थान पर रहा। बैठक में 02 वर्ष के बच्चों का वैक्सीनेशन, वजन मशीन किट, एच0आई0वी0 व सिफलिस किट का वितरण, आशा कार्यकत्रियों का भुगतान तथा नवीन विकास प्राथमिकता के 37 कार्यक्रमों की प्रगति की भी समीक्षा कर सम्बन्धित को उचित दिशा-निर्देश दिये गये। बैठक में मण्डल के सभी जनपदों के जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी तथा समस्त मण्डलीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *