युक्रेन से अपने वतन वापस लौटे छात्रों ने बताया यूक्रेन का खौफनाक मंजर

Exclusive उत्तर प्रदेश देश/विदेश युक्रेन लखनऊ

रिपोर्ट — पवन तिवारी 

लखनऊ ! शुक्रवार को राजधानी लखनऊ के चौधरी चरण सिंह अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर यूक्रेन से 7 छात्र लखनऊ पहुंचे सभी छात्रों ने यूक्रेन में खराब हुए हालत की दास्तां बयां की इस दौरान कुछ छात्र भावुक भी हो गए छात्रों के लखनऊ एयरपोर्ट पहुंचने पर परिजनों ने गले लगा कर स्वागत किया वहीं मौके पर मौजूद एडीएम प्रशासन ने पुष्पगुच्छ देकर सभी छात्रों का स्वागत किया। 3 फ्लाइट से अभी तक 7 छात्र लखनऊ पहुंचे, जिसमें उत्कर्ष श्रीवास्तव, ईशा राज, गरिमा गुप्ता व मधु वर्मा लखनऊ की है। मनमोहन और कृष्णमोहन लखीमपुर खीरी, प्रखर सिंह बाराबंकी तथा प्रज्वल शर्मा हैदरगढ़ के हैं। रूस यूक्रेन युद्ध के बाद यूक्रेन में चारों तरफ मौत का खौफ मंडरा रहा है। यूक्रेन की सेना भी लगातार रूस के सैनिकों से लोहा ले रही है। इसी बीच यूक्रेन में भारत के हजारों छात्र फंसे हुए हैं। जिन्हें भारत सरकार वापस लाने का प्रयास कर रही है। इसी कड़ी में आज यूक्रेन के अलग-अलग शहरों में रहने वाले छात्र लखनऊ एयरपोर्ट पहुंचे लखनऊ एयरपोर्ट पहुंचने पर वहां मौजूद परिजनों ने तथा रेडियम विपिन कुमार मिश्रा में पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया । लखनऊ पहुंचे छात्रों ने यूक्रेन के हालात बयां किए। इस दौरान छात्राओं ने बताया कि यूक्रेन की स्थिति बहुत खराब है यूक्रेन से रोमानिया व पोलैंड बॉर्डर पहुंचने के लिए छात्रों को बहुत ही संघर्ष करना पड़ रहा है रास्ते में कई बार उनसे मारपीट भी की गई। लखनऊ कोचिंग मधु वर्मा ने बताया कि 24 फरवरी को खार्तूम एयरपोर्ट से उनकी फ्लाइट थी लेकिन अचानक रूस की गोलाबारी शुरू हो गई जिन से सभी उड़ानें रद्द कर दी गई जिसके बाद बस ट्रेन द्वारा उन्हें बॉर्डर तक आने के लिए संघर्ष करना पड़ा कई बार उनके साथ मारपीट की भी घटना हुई बॉर्डर पहुंचने पर इंडियन एंबेसी में उन्हें पूरा सहयोग किया जिन के सहयोग से हम सभी लोग सुरक्षित लखनऊ पहुंचे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *