भाकियू अराजनैतिक के किसानों ने एक्सप्रेस वे पर दिया धरना

Politics आगरा उत्तर प्रदेश स्थानीय समाचार
आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे की तीन लाइन पौने तीन घंटे तक रही बंद
टोल प्लाजा पर फ्री गाडी न निकालने पर दिया धरना
मोर्निंग सिटी संवाददाता 
आगरा /फतेहाबाद। आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे के टोलप्लाजा पर भाकियू अराजनैतिक के जिला उपाध्यक्ष की गाडी को लखनऊ के लिए टोलप्लाजा के कर्मचारी ने फ्री मे पास न करने पर उत्तेजित किसान नेता ने फोन कर पदाधिकारियों को बुलाकर जमकर हंगामा करते हुए धरने पर बैठ गए।सूचना मिलते ही आलाधिकारी मौके पर पहुंच गए।लगभग पौने तीन घंटे तक एक्सप्रेस वे की पांच लाइन बंद रहने के कारण वाहनों का जाम लग गया। बाद मे उपजिलाधिकारी को ज्ञापन सौपकर धरना समाप्त किया गया।
शनिवार सुबह लगभग साढे नौ बजे भाकियू के जिला उपाध्यक्ष विनोद कुशवाहा आगरा लखनऊ एक्सप्रेस के किलो मीटर.21पर स्थिति टोलप्लाजा पर पहुंचे।जहां टोलप्लाजा के कर्मचारी ने टोल मांगा।जिस पर किसान नेता ने अपना परिचय देते हुए फ्री गाडी को पास करने के लिए कहा।टोलप्लाजा के कर्मचारी द्वारा फ्री मे गाडी पास न करना नागवार गुजरा और अपने उच्चापदाधिकारियों को मोबाइल से मामले की जानकारी देते हुए तुरंत टोलप्लाजा पर आने को कहा गया।जानकारी मिलते ही बृजक्षेत्र के अध्यक्ष स्वरूप चंसौरिया, मंडल अध्यक्ष राजकुमार तौमर, प्रदेश उपाध्यक्ष पुष्पेन्द्र यादव, जिलाध्यक्ष दीपक तौमर, जिलाध्यक्ष फिरोजाबाद मोहित यादव समेत भाकियू नेता पहुंच गए।और नारेबाजी करते हुए सुबह 11:50बजे घरने पर बैठ गए।घरना की जानकारी मिलते ही अपरजिलाधिकारी प्रशासन ,एसपी देहात सुमेन मीणा, उपजिलाधिकारी जे.पी.पांडेय, तहसीलदार मनोज कुमार, प्रभारी निरीक्षक फतेहाबाद आलोक कुमार सिंह, थानाध्यक्ष डौकी बहादुर सिंह, थानाध्यक्ष निबोहरा मनोज कुमार शर्मा पुलिस बल के साथ यूपीडा के मुख्य सुरक्षा अधिकारी आर.एन.सिंंह, सुरक्षा अधिकारी  सहकार ग्लोबल लिमिटेड के प्रोजेक्ट मैनेजर के.पी.सिंंह पहुंच गए।अधिकारियों ने किसान नेताओं से वार्ता की गई।किसान नेताओं की मांग थी भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष और प्रदेश अध्यक्ष की भांति मंडल स्तर पर गाडियों को फ्री निकाल जाऐ।साथ ही मंडल अध्यक्ष और जिलाध्यक्ष के द्वारा जिस गाडी का नंबर मैसेज किया जाये उसे फ्री मे पास किया जाये।इस पर सहकार ग्लोबल लिमिटेड के प्रोजेक्ट मैनेजर के.पी.सिंंह का कहना था कि यह अधिकार हमें नहीं है।यह अधिकार लखनऊ में यूपीडा के उच्चापदाधिकारियों के पास है।तथा उनसे ज्ञापन देने के लिए अधिकारियों ने कहा।वहीं पांच लाइनें बंद रहने के कारण एक्सप्रेस वे पर लम्बी लम्बी लाइन लग गई।भाकियू नेताओं ने उपजिलाधिकारी को एक ज्ञापन सौंपा गया।जिसमें मंडल अध्यक्ष और जिला अध्यक्ष  का भी गाडी नंवर के साथ साथ मैसेज भेजने पर दूसरे किसान नेताओं की गाडियां फ्री निकाला जा सके।इस अवसर पर बृज कांत यादव ,सुनील तौमर,बदन सिंह शाक्य, चेतराम बघेल, अविनाश सिंह, पवन कुमार ,जयप्रकाश राजपूत, मनमोहन भारद्वाज, कृष्णा निगम, सुमित कुमार ,प्रवीण कुमार ,पंकज बघेल, शिवा यादव, चंद्रशेखर ,प्रज्वल यादव, महेंद्र भदौरिया, जितेन्द्र ठाकुर, आकाश, राहुल माथुर, सोमेश यादव आदि थे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *