आगरा की जनता ने अपनी तालियों की गड़गड़ाहट से पहनाया ताज — सुनील पाल

आगरा उत्तर प्रदेश स्थानीय समाचार
आगरा।  लाफ्टर चैलेंज शो को जीतकर अपनी अलग पहचान बनाने वाले कॉमेडियन सुनील पाल मंगलवार रात को ताज महोत्सव में पहुँचे। शिल्पग्राम स्थित मंच पर उन्होंने अपनी प्रस्तुति दी देर रात तक वह अपनी हास्य कविताओं और चुटकुलों से लोगों को हंसाते और गुदगुदाते रहे। कॉमेडियन सुनील पाल पत्रकारों से भी रूबरू हुए उन्होंने कहा कि ताज महोत्सव सभी को साथ देने वाला है मैं भी यहां कई बार आ चुका हूं और लोगों का भरपूर प्यार मिला है यानी लोगों ने मुझे अपनी तालियों की गड़गड़ाहट से आगरा का ताज जरूर पहनाया है।
भगवंत मान बने सीएम पंजाब,कॉमेडियन के लिए गर्व की बात 
कॉमेडियन सुनील पाल का कहना है कि आज हास्य कला के कारण ही हमारे बीच के कॉमेडियन पंजाब के सीएम बन गए हैं यह सभी कॉमेडियन के लिए गर्व की बात है। इस बात से ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि आम व्यक्ति एक कॉमेडियन को कितना माल हो सम्मान देता है भगवान लाफ्टर चैलेंज शो में हमारे साथ थे और पांचवें नंबर पर आए थे लेकिन आज उन्होंने पंजाब की गद्दी पर अपना हक जमाया है।
यूपी को सुधारना है इसलिए पंजाब चुना है:-
कॉमेडियन सुनील पाल का कहना था कि आप पार्टी उत्तर प्रदेश में भी चुनाव लड़ी और उसे भी जितना चाहते थे लेकिन भगवंत मान ने यूपी को ही चुना यूपी का मतलब उड़ता पंजाब उड़ता पंजाब यानी पंजाब को सुधारना चाहते थे पंजाब में की जो स्थिति है वह किसी से छिपी नहीं है और पंजाब के लोगों की सोच ऊंची है और उसे लोगों को ही पसंद करते हैं इसीलिए तो वहां के सीएम कभी बादल कभी मान कभी कोई और।
भाजपा नेता और भोजपुरी गायक मनोज पर टिपड़ी:-
सुनील पाल कॉमेडी करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश की बात कहे तो यूपी में बाबा कोलवा गाना भाजपा ने किशन तिवारी से दवा लिया जबकि मनोज भाजपा नेता होते हुए खुद भोजपुरी सिंगर थे आज वो सवाल कर रहे हैं कि भाई गायक तो मैं था किसी और से गाना कैसे गवा लिया। सुनील पाल ने कॉमेडी करते हुए कहा कि अब मनोज की तरफ से मैं प्रतिक्रिया देता हूं जिंदगी झंड बा फिर भी घमंड बा।
राजनीति परिवार की छोटी मोटी नोकझोंक और पुलिस की कार्यशैली पर लगाया तड़का:-
कॉमेडियन सुनील पाल जैसे ही मंच पर पहुंचे उन्होंने लोगों को गुदगुदाना शुरू कर दिया अपनी हास्य कला शैली से उन्होंने राजनीति परिवार की छोटी मोटी नोकझोंक और पुलिस की कार्यशैली पर कई चुटकुले पीस की जिला सुनकर सब इधर चौक गुदगुदाते रहे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *