जिलाधिकारी आगरा नवनीत सिंह चहल की अध्यक्षता में माह दिसंबर की समीक्षा बैठक हुई संपन्न

Press Release आगरा उत्तर प्रदेश प्रशासन स्थानीय समाचार
फरहान खान 
मोर्निंग सिटी संवाददाता 

आगरा!  जिलाधिकारी आगरा नवनीत सिंह चहल की अध्यक्षता में विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों के कार्यों की माह दिसंबर की समीक्षा बैठक विकास भवन सभागार में संपन्न हुई। बैठक में लो.नि.वि. पंचायत राज, जल निगम, शिक्षा विभाग, नगर विकास विभाग, श्रम, स्वास्थ्य, दिव्यांगजन सशक्तिकरण, खादी, सिंचाई, उद्यान इत्यादि विभागों के विकास कार्यों की प्रगति की समीक्षा कर जिलाधिकारी महोदय द्वारा जरूरी दिशा निर्देश दिए गए। बैठक में 50 लाख से ऊपर के निर्माण कार्यों की समीक्षा में लोक निर्माण विभाग, आर0ई0डी0 द्वारा नई सड़को के निर्माण, चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण की समीक्षा की गई, जिसमें बताया गया कि आर0ई0डी0 के 07 कार्यों में 05 पूर्ण हैं, 02 कार्यों हेतु धनराशि की मांग हेतु पत्र व्यवहार किया गया है, लोक निर्माण विभाग प्रांतीय खंड 1 के 6 कार्य पूर्ण 2 कार्य बाह कचौरा मार्ग व ग्वालियर मार्ग चौड़ीकरण हेतु विद्युत पोल हटाए जाने की कार्ययोजना बनाई गई है। लोक निर्माण विभाग प्रखंड 2 के अंतर्गत 3 कार्यों हेतु टेंडर प्रक्रिया जारी है, अन्य कार्य प्रगति पर हैं, विभिन्न कार्यों को समय से पूर्ण न करने पर तथा बॉन्ड होने के बाद भी कार्य देरी से प्रारंभ करने पर मुख्य विकास अधिकारी महोदय ने कड़ी नाराजगी व्यक्त की और संबंधित अधिशासी अभियंता को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। बैठक में भवन निर्माण संबंधी समीक्षा में थाना खेड़ा राठौड़, थाना सिकंदरा निर्माण कार्य, पिडौरा व अभैदोपुरा में चल रहे विभिन्न निर्माण कार्यों को 31 जनवरी तक पूर्ण करने के निर्देश दिए गए। अटल आवासीय विद्यालय निर्माण की समीक्षा में बताया गया कि एकेडमिक ब्लॉक पूर्ण किया जा चुका है, स्टाफ क्वार्टर बनाने का कार्य प्रगति पर है, 31 मार्च तक कार्य पूर्ण कर लिया जाएगा, नगर विकास विभाग के अंतर्गत पेयजल योजना फेज 3, फेज 4 के कार्यों को दी समय सीमा में पूर्ण न करने पर कड़ी कार्यवाही करने की मुख्य विकास अधिकारी महोदय ने संस्तुति की। मंडलीय प्रशिक्षण केंद्र होमगार्ड के निर्माण हेतु जमीन उपलब्धता न होने पर संबंधित एसडीएम व होमगार्ड विभाग दोनों से संयुक्त रिपोर्ट देने के निर्देश दिए गए। बैठक में गंगाजल संपूर्ति योजना की समीक्षा में बताया गया कि 1 पैकेज का कार्य बाकी है टेंडर प्रक्रिया पूर्ण होते ही कार्य पूर्ण कर लिया जाएगा, विभिन्न सड़को व गलियों में उक्त हेतु की गई खुदाई, गड्ढों को न भरने पर जिलाधिकारी महोदय ने कड़ी नाराजगी व्यक्त कर सड़क तथा गलियों की अलग अलग रिपोर्ट देने के निर्देश दिए। राष्ट्रीय निर्माण निगम द्वारा कराए जा रहे औद्योगिक क्षेत्र में विकास कार्य, शिल्पग्राम में मल्टी लेवल पार्किंग निर्माण, राजकीय विद्यालय निर्माण की समीक्षा कर दिशा निर्देश दिए, उत्तर प्रदेश जल निगम द्वारा कराए जारहे रेट्रोफिटिंग के कार्यों में सर्वाधिक शिकायत मिलने पर जिलाधिकारी महोदय द्वारा कड़ी नाराजगी व्यक्त की तथा जांच कमेटी द्वारा की गई संस्तुति के अनुसार गुणवत्तापूर्ण कार्य पूर्ण कर थर्ड पार्टी से जांच के बाद ही टेक ओवर करने के निर्देश दिए। कांशीराम आवास योजना नाराइच की समीक्षा में बताया गया कि संबंधित ठेकेदार को ब्लैक लिस्ट किया गया है तथा प्रकरण कोर्ट में विचाराधीन है, अग्निशमन केंद्र फतेहाबाद, किरावली के निर्माण को तय समय सीमा में पूर्ण करने के दिशा निर्देश दिए, सिंचाई विभाग की समीक्षा में बताया गया कि जनपद में कुल 82 टेल हैं, जिनमें 67 टेल तक रोस्टर के अनुसार पानी उपलब्ध कराया गया है, जिलाधिकारी महोदय ने शत्-प्रतिशत् टेल तक पानी उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कृषि विभाग की समीक्षा में बताया गया कि सोलर फोटोवोल्टिक सिंचाई पम्प हेतु 73 किसानों की धनराशि जमा हुई, जिनमें 53 को आपूर्ति हो गई है शेष आपूर्ति जल्द कर दी जाएगी। बैठक में 59 निर्माणाधीन गोवंश आश्रय स्थल की समीक्षा में बताया गया कि 09 गोवंश आश्रय पूर्ण किए जा चुके हैं, शेष 31 जनवरी तक पूर्ण कर लिए जाएंगे। जिलाधिकारी महोदय ने मुख्य विकास अधिकारी को निर्देशित करते हुए गोवंश को ठंड से बचाव हेतु हीटर, अलाव, तिरपाल इत्यादि की व्यवस्था सुनिश्चित करने तथा उक्त हेतु हर संभव उपाय करने को कहा। पशुओं के टीकाकरण, ईयर टैगिंग कराने के निर्देश दिए। स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा में बताया गया कि आयुष्मान कार्ड बनाने की प्रगति अत्यंत शिथिल है और मंडल में जनपद की रैंकिंग सबसे खराब है, जिस पर जिलाधिकारी महोदय ने उक्त स्थिति हेतु मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कड़ी नाराजगी व्यक्त की और लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति में सुधार आगामी बैठक तक करने के कड़ाई से निर्देश दिए। परिवार नियोजन, बच्चों के टीकाकरण में भी लक्ष्य के सापेक्ष कार्य पूर्ण करने को निर्देशित किया। पंचायतराज विभाग की समीक्षा में बताया गया कि सामुदायिक शौचालय का निर्माण पूर्ण कर लिया गया है, पंचायत भवनों का निर्माण प्रगति पर है। जिलाधिकारी महोदय ने जिन पंचायतों में पंचायत भवनों हेतु जमीन उपलब्ध नहीं हैं वहां दान या भूमि क्रय कर शतप्रतिशत पंचायत भवनों को पूर्ण कराने को निर्देशित किया। बैठक में श्रम विभाग की समीक्षा कर निर्देश दिए गए कि निर्माण कार्य स्थल पर सभी मजदूरों के रजिस्ट्रेशन कराएं, प्रधानमंत्री आवास, शहरी/ग्रामीण, मुख्यमंत्री आवास, कौशल विकास/स्वरोजगार, निवेश मित्र पोर्टल, मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह, कन्या सुमंगला योजना, ऑपरेशन कायाकल्प, अमृत योजना, पीएम किसान सम्मान निधि इत्यादि योजनाओं की समीक्षा कर जिलाधिकारी महोदय द्वारा जरूरी दिशा निर्देश दिए गए। बैठक में यूपीआरएनएसएस व सेतु निगम, खादी ग्रामोद्योग विभाग से प्रतिनिधित्व न होने पर कारण बताओ नोटिस व वेतन काटने को निर्देशित किया। उक्त अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी ए0 मणिकंडन, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 अरुण श्रीवास्तव, परियोजना निदेशक  राजकुमार लोधी, उप निदेशक उद्यान श्री कौशल किशोर, समाज कल्याण अधिकारी सतीश कुमार सहित अन्य संबंधित अधिकारीगण उपस्थित थे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *