हृदय रोगियों का उपचार अब रोटा एबलेशन से संभव

Health आगरा उत्तर प्रदेश स्थानीय समाचार

उजाला सिग्नस रेनबो कार्डियक केयर में स्थापित हुई उत्तर प्रदेश की पहली रोटा प्रो मशीन

मोर्निंग सिटी संवाददाता

आगरा। जिन मरीजों के हृदय की धमनी में अधिक कैल्शियम जमा होने और लंबे ब्लॉकेज होने की वजह से एंजियोप्लास्टी नहीं हो पाती उनके लिए रोटा एबलेशन तकनीक कारगर है। उत्तर प्रदेश में पहली बार लेटेस्ट जनरेशन रोटा प्रो मशीन के जरिए अब आगरा में उजाला सिग्नस रेनबो कार्डियक केयर में इलाज उपलब्ध है। उजाला सिग्नस रेनबो कार्डियक केयर के निदेशक और वरिष्ठ हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. वीनिश जैन ने बताया कि एंजियोग्राफी के बाद अधिकांश मामलों में एंजियोप्लास्टी की जरूरत होती है, जबकि कई मामलों में बायपास सर्जरी की जरूरत पड़ती है। लेकिन नसों में कठोर कैल्शियम या ब्लाॅकेज जमा होने की स्थिति में एंजियोप्लास्टी करते समय ह्दय तक स्टेंट ले जाना मुश्किल होता है। ऐसे में रोटा एबलेशन तकनीक का उपयोग कर स्टेंट लगाना आसान हो जाता है। इस तकनीक की मदद से उपचार करने के लिए सेंटर में रोटा प्रो मशीन स्थापित की गई है। इसमें डायमंड के छर्रे वाली ड्रिल होती है जो हृदय के अंदर तेज रफ्तार से घूमती है। रोटा एबलेशन तकनीक में कैथेटर के मुंहाने पर एक नैनो ड्रिल मशीन होती है। जिसे डायमंड बर भी कहा जाता है। जिससे खून की नली या संबंधित आर्टरी में जमा कैल्शियम को तोड़कर एंजियोग्राफी और एंजियोप्लास्टी के लिए रास्ता बनाया जाता है। जमा कैल्शियम का चूरा बनाकर उसे साफ कर दिया जाता है।  उजाला सिग्नस ग्रुप के चेयरमैन प्रोबल घोषाल ने डॉ वीनिश जैन और उनकी पूरी टीम को बधाई देते हुए अपने संदेश में कहा कि चिकित्सा संस्थान का अर्थ ही सही मायनों में सेवा मूल्यों से जुड़ा होता है। यह गर्व की बात है कि उजाला सिग्नस परिवार देश भर में लोगों को उनके नजदीक ही शीर्ष स्तर की चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध करा रहा है। उजाला सिग्नस ग्रुप के डायरेक्टर डॉ सचिन बजाज ने भी डॉ जैन और कार्डियक यूनिट को बधाई दी। कहा कि गर्व का विषय है कि उजाला सिग्नस आगरा का यह कार्डियक सेंटर क्षेत्र का सर्वश्रेष्ठ हृदय रोग उपचार केंद्र बन गया है। वहीं वरिष्ठ न्यूरोसर्जन डॉ आरसी मिश्रा ने कहा कि यह केंद्र दिमाग के साथ ही दिल के इलाज में भी सर्वश्रेष्ठ केंद्र है। उजाला सिग्नस रेनबो हॉस्पिटल के डायरेक्टर डॉ नरेंद्र मल्होत्रा ने कहा कि मरीजों के प्रति सेवा और समर्पण का भाव ही इस अस्पताल को दूसरों से अलग बनाता है। रीजनल हेड सिग्नस मेडिकेयर प्रा. लि. दिव्य प्रशांत बजाज ने बताया कि डॉ वीनिश जैन पहले से इस तकनीक से आगरा में मरीजों का इलाज करते आ रहे हैं, लेकिन अब लेटेस्ट जनरेशन रोटा प्रो तकनीक का लाभ भी डॉ जैन की देखरेख में मिलेगा। यह तकनीक अभी भारत के चुनिंदा केंद्रों पर ही उपलब्ध है। उजाला सिग्नस रेनबो कार्डियक केयर भी अब इन्हीं केंद्रों में से एक बन गया है जहां अत्याधुनिक कैथलैब के साथ ही एचडी आईवस और अब रोटा प्रो जैसे अत्याधुनिक उपकरण और तकनीके उपलब्ध हैं। आगरा और आसपास के क्षेत्र में यह कॉम्प्लेक्स एंजियोप्लास्टी का यह सबसे उन्नत केंद्र है। इससे आगरा समेत आसपास के तमाम जिलों के मरीजों को राहत मिलेगी। हृदय रोगियों को अब दूसरे राज्यों-शहरों में नही जाना पडे़गा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *